खबरे |

खबरे |

क्या हमें सचमुच बच्चों को दूध पिलाने के बाद डकार दिलवाने की ज़रूरत है, जानिए शोध क्या कहता है?
Published : May 2, 2024, 4:21 pm IST
Updated : May 2, 2024, 4:21 pm IST
SHARE ARTICLE
Do we really need to burp babies after feeding? Know what the research says?
Do we really need to burp babies after feeding? Know what the research says?

माता-पिता को अपने बच्चों को डकार दिलाने की सलाह दिए जाने के बावजूद, इस विषय पर अधिक शोध प्रमाण उपलब्ध नहीं हैं।

(कार्लीन ग्रिबल, पश्चिमी सिडनी विश्वविद्यालय नीना जेन चाड, सिडनी विश्वविद्यालय)

सिडनी: माता-पिता को अक्सर अपने बच्चों को दूध पिलाने के बाद डकार दिलवाने की सलाह दी जाती है। कुछ लोग सोचते हैं कि दूध पिलाने के बाद डकार लेना, बच्चे के रोने की असुविधा को कम करने या रोकने के लिए, या दूध पिलाने के बाद बच्चे द्वारा दूध उगलने की आशंका को कम करने के लिए महत्वपूर्ण है। यह सच है कि बच्चे, वयस्कों की तरह, खाते समय हवा निगलते हैं। डकार लेने से यह हवा हमारे पाचन तंत्र के ऊपरी हिस्से से बाहर निकलती है। इसलिए जब कोई बच्चा दूध पीने के बाद रोता है, तो कई लोग यह मान लेते हैं कि ऐसा इसलिए है क्योंकि बच्चे को "डकार दिलवाने" की ज़रूरत है। हालाँकि, यह आवश्यक रूप से सत्य नहीं है।

दूध पीने के बाद बच्चे क्यों रोते हैं या 'दूध गिराते' हैं?

बच्चे कई कारणों से रोते हैं जिनका "फँसी हुई हवा" से कोई लेना-देना नहीं है। वे तब रोते हैं जब वे भूखे, ठंडे, गर्म, डरे हुए, थके हुए, अकेले, परेशान होते हैं, उन्हें शांत होने के लिए बड़ों की मदद की ज़रूरत होती है, असुविधा या दर्द में, या कभी बिना किसी पहचाने जाने योग्य कारण के। वास्तव में, हमारे पास बिना किसी ज्ञात कारण के रोने का नाम है; इसे "कॉलिक" कहा जाता है।

"दूध उगलना" - जब एक बच्चा दूध पीने के बाद धीरे से थोड़ा सा दूध उगल देता है - यह आम बात है क्योंकि नवजात शिशु के पेट के शीर्ष पर मांसपेशियां पूरी तरह से परिपक्व नहीं होती हैं। इसका मतलब यह है कि जो नीचे जाता है वह आसानी से वापस ऊपर जा सकता है। बार-बार थूकना तब होता है जब बच्चे का पेट बहुत भरा होता है, उनके पेट पर दबाव पड़ता है या लेटने के बाद उन्हें उठाया जाता है। जैसे-जैसे बच्चे बड़े होते जाते हैं, दूध पिलाने के बाद दूध वापिस उगलने का सिलसिला कम हो जाता है। एक महीने के तीन-चौथाई बच्चे दिन में कम से कम एक बार दूध पिलाने के बाद थोड़ा दूध वापिस उगल देते हैं। लगभग आधे बच्चे  पांच महीने का होने पर दूध उगलना बंद कर देते हैं और लगभग सभी (96%) अपने पहले जन्मदिन तक दूध उगलना बंद कर देते हैं।

क्या डकार लेने से रोना या दूध उगलना कम करने में मदद मिलती है?

माता-पिता को अपने बच्चों को डकार दिलाने की सलाह दिए जाने के बावजूद, इस विषय पर अधिक शोध प्रमाण उपलब्ध नहीं हैं। भारत में किए गए एक अध्ययन में 35 नवजात शिशुओं की देखभाल करने वालों को अपने बच्चों को डकार दिलाने के लिए प्रोत्साहित किया गया, जबकि 36 नवजात शिशुओं की देखभाल करने वालों को डकार दिलाने के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई।अगले तीन महीनों के लिए, माताओं और देखभाल करने वालों ने रिकॉर्ड किया कि क्या उनका बच्चा दूध पिलाने के बाद उसे वापिस उगलता है और क्या उनमें जोर से रोने के लक्षण दिखे। इस अध्ययन में पाया गया कि डकार लेने से रोना कम नहीं हुआ और वास्तव में दूध उगलने में वृद्धि हुई।

मुझे दूध उगलने या रोने के बारे में कब चिंतित होना चाहिए?

  • अधिकतर रोना और दूध उगलना सामान्य है। हालाँकि, ये व्यवहार सामान्य नहीं हैं: 
  • खाने से इनकार करना
  • ज्यादा दूध उलटने से वजन बढ़ने की रफ्तार कम होना
  • खांसी या घरघराहट की परेशानी होना
  •  दूध पिलाते समय खून वाली उल्टी होना।    

यदि आपके बच्चे में इनमें से कोई भी लक्षण है, तो डॉक्टर या बाल स्वास्थ्य नर्स से मिलें। यदि आपका शिशु उल्टी से परेशान नहीं है और उसमें कोई अन्य लक्षण नहीं है तो यह कपड़े खराब होने से ज्यादा और कुछ नहीं है। ऐसा कुछ नहीं है, जिसके लिए चिकित्सकीय ध्यान देने की आवश्यकता है। शिशुओं का बहुत अधिक रोना और मचलना भी सामान्य है; प्रतिदिन दो घंटे, लगभग पहले छह सप्ताह का औसत है। तीन महीने की उम्र तक पहुंचते-पहुंचते यह आमतौर पर प्रतिदिन लगभग एक घंटे तक कम हो जाता है। इससे ज्यादा रोने का मतलब यह नहीं कि कुछ गड़बड़ है। एक-चौथाई छोटे शिशु कॉलिक या मरोड़ होने पर रोते हैं, लेकिन समय के साथ यह अपने आप दूर हो जाता है। यदि आपका शिशु औसत से अधिक रो रहा है या आप चिंतित हैं कि कुछ गड़बड़ हो सकती है, तो आपको अपने डॉक्टर या बाल स्वास्थ्य नर्स को दिखाना चाहिए।

हर कोई अपने बच्चे को डकार नहीं दिलवाता

दुनिया के कुछ हिस्सों में बच्चों को डकार दिलाना एक पारंपरिक प्रथा है, लेकिन अन्य में नहीं। उदाहरण के लिए, इंडोनेशिया में शोध में पाया गया कि स्तनपान कराने वाली अधिकांश माताएं अपने बच्चों को दूध पिलाने के बाद शायद ही कभी या कभी डकार नहीं दिलातीं। एक कारक जो इस बात को प्रभावित कर सकता है कि कोई संस्कृति बच्चों को डकार दिलाने के लिए प्रोत्साहित करती है या नहीं, वह शिशु देखभाल के दूसरे पहलू से संबंधित हो सकता है और वह यह है कि शिशुओं को कितना गोद में उठाया जाता है।

बच्चे को स्लिंग या शिशु वाहक में ले जाने से बच्चों के रोने के समय को कम किया जा सकता है। जिन शिशुओं को उनकी मां या किसी अन्य देखभालकर्ता द्वारा दूध पीने के बाद सीधा उठा लिया जाता है, उन्हें निस्संदेह उस निकटता और गतिविधि में आराम मिलता है। स्लिंग्स में भी शिशुओं को मजबूती से और सीधा रखा जा रहा है, जिससे निगली गई हवा को ऊपर उठने और जरूरत पड़ने पर डकार के माध्यम से बाहर निकलने में मदद मिलेगी। स्लिंग्स का उपयोग करने से शिशु की देखभाल करना आसान हो सकता है। अध्ययनों (यादृच्छिक नियंत्रित परीक्षणों सहित) से यह भी पता चला है कि जब महिलाएं बेबी स्लिंग का उपयोग करती हैं तो उनमें प्रसवोत्तर अवसाद की दर कम होती है और वे लंबे समय तक स्तनपान कराती हैं। यह महत्वपूर्ण है कि शिशु वाहक और स्लिंग्स का उपयोग सुरक्षित रूप से किया जाए, इसलिए सुनिश्चित करें कि इसे कैसे करना है और इसके बारे में नवीनतम सलाह से अपडेट रहें।

तो, क्या मुझे अपने बच्चे को डकार दिलवाना चाहिए?

 यह आप पर निर्भर है। शिशु को धीरे-धीरे डकार दिलाना हानिकारक नहीं है। यदि आपको लगता है कि डकार लेना आपके बच्चे के लिए मददगार है, तो आप जो कर रहे हैं उसे जारी रखें। यदि हर बार दूध पिलाने के बाद अपने बच्चे को डकार दिलाने की कोशिश करने से आपको या आपके बच्चे को तनाव हो रहा है, तो आपको ऐसा करने की ज़रूरत नहीं है।
      

Tags: health tips

SHARE ARTICLE
Advertisement

 

\"ਪੰਜਾਬ ਨੂੰ Ignore ਕਰਕੇ ਸਾਡੇ ਲੋਕਾਂ ਨਾਲ ਦੁਸ਼ਮਣੀ ਕੱਢੀ ਗਈ\"

24 Jul 2024 5:39 PM

ਕੈਨੇਡਾ ਤੋਂ ਵਾਪਸ ਆਉਣਗੇ ਪੰਜਾਬੀ! ਬੇਰੁਜ਼ਗਾਰੀ ਨਾਲ ਮਚੀ ਹਾਹਾਕਾਰ, ਭਾਰਤੀਆਂ \'ਤੇ ਕਿੰਨਾਂ ਅਸਰ ਦੇਖੋ ਰਿਪੋਰਟ

24 Jul 2024 5:35 PM

ਬਠਿੰਡਾ ਦੇ ਲੋਕਾਂ ਨੇ ਕੇਂਦਰੀ ਬਜਟ ’ਤੇ ਜਤਾਈ ਨਿਰਾਸ਼ਾ.. ਕਹਿੰਦੇ “ਸ਼ੋਸ਼ੇਬਾਜ਼ੀ ਹੈ ਕੇਂਦਰੀ ਬਜਟ”, ਸੋਨਾ-ਚਾਂਦੀ ਦੀ ਥਾਂ..

24 Jul 2024 5:32 PM

Canada, Australia, UK, USA ਦਾ ਲਗਵਾਓ ਵੀਜ਼ਾ, ਨਾਲੇ ਕੰਮ ਦੀ ਵੀ ਫੁੱਲ ਗਰੰਟੀ, ਘੱਟ ਪੈਸਿਆਂ \'ਚ ਸਿਰਫ਼ 30 ਸਕਿੰਟ..

24 Jul 2024 5:29 PM

Splitsvilla X5 ਅਤੇ Roadies fame Digvijay ਅਤੇ Unnati ਤੋਂ ਸੁਣੋ finale ਤੋਂ ਪਹਿਲਾ ਕਿਉਂ Sunny Leone ਹੋਏ

22 Jul 2024 6:02 PM

ਪੰਜਾਬੀ ਸੂਟ \'ਚ Tripti Dimri ਨੇ ਬਿਖਰਿਆ ਆਪਣਾ ਜਲਵਾ, ਬੁਲਾਈ ਸਾਰਿਆਂ ਨੂੰ ਸਤਿ ਸ਼੍ਰੀ ਅਕਾਲ

22 Jul 2024 6:01 PM