खबरे |

खबरे |

नदी में उफान का यह वीडियो हालिया नहीं 2021 का है, Fact Check रिपोर्ट
Published : Jul 9, 2024, 7:02 pm IST
Updated : Jul 9, 2024, 7:02 pm IST
SHARE ARTICLE
Fact Check Old video of flood hit river at uttarakhand viral as recent news
Fact Check Old video of flood hit river at uttarakhand viral as recent news

रोज़ाना स्पोक्समैन ने अपनी पड़ताल में पाया कि वायरल वीडियो हाल का नहीं बल्कि साल 2021 का है।

Claim

उत्तर भारत में भारी बारिश और बारिश के कारण हो रहे हादसों के बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में उफ़ान में एक नदी बहती हुई देखी जा सकती है। दावा किया जा रहा है कि वायरल वीडियो हालिया है और उत्तराखंड से सामने आया है।

X यूज़र Rohit Nandan Mishra ने 6 जुलाई 2024 को वायरल वीडियो साझा करते हुए लिखा, “सावधान, ऋषि गंगा और tapovan का NTPC का dam टूट गया है। शाम तक पानी चमोली पार कर लेगा। इसलिए अभी कोई भी व्यक्ति हरिद्वार और ऋषिकेश का प्रोग्राम न बनाएं?”

रोज़ाना स्पोक्समैन ने अपनी पड़ताल में पाया कि वायरल वीडियो हाल का नहीं बल्कि साल 2021 का है। अब पुराने वीडियो को हालिया बता वायरल कर लोगों को गुमराह किया जा रहा है।

Investigation 

पड़ताल की शुरुआत करते हुए हमने सबसे पहले इस वीडियो के कीफ्रेम्स निकाले और उनपर रिवर्स इमेज सर्च किया। 

वायरल वीडियो पुराना है

हमें यह वीडियो कई पुराने पोस्ट पर साझा मिला। बता दें कि वीडियो साल 2021 का है। पत्रकार Amish Devgan ने 7 फरवरी 2021 को वायरल वीडियो साझा करते हुए लिखा, "Terrifying visuals of the glacier burst in #Uttarakhand god bless our ppl. केदारनाथ कृपा करे । ॐ नमःशिवाय"

बता दें कि मामले को लेकर न्यूज़ सर्च करने पर हमें 8 फरवरी 2021 की Aaj Tak की प्रकाशित रिपोर्ट मिली जिसमें चमोली, उत्तराखंड अधीन ग्लेशियर टूटने के कारण आई बाढ़ के संबंध में जानकारी दी गई थी। 

"वीडियो को लेकर Uttarakhand Police का स्पष्टीकरण"

बता दें कि चमोली पुलिस ने 6 जुलाई 2024 को वायरल वीडियो को फ़र्ज़ी बताया और वीडियो साझा करते हुए लिखा, "???? ???? "खंडन" वर्ष 2021 में रैणी में आयी आपदा की वीडियो को कतिपय लोगों द्वारा सोशल मीडिया पर पोस्ट कर वर्तमान परिदृश्य से जोड कर भ्रामक खबर के रूप में दिखाया जा रहा है, जो सत्य से एकदम परे है। कृपया ऐसी अफवाहों पर ध्यान न दें और ऐसी भ्रामक खबरों से सावधान रहें।"

मतलब साफ़ था कि अब 2021 के वीडियो को भ्रामक दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

Conclusion

रोज़ाना स्पोक्समैन ने अपनी पड़ताल में पाया कि वायरल वीडियो हाल का नहीं बल्कि साल 2021 का है। अब पुराने वीडियो को हालिया बता वायरल कर लोगों को गुमराह किया जा रहा है।

Result: Misleading

Our Sources:

Tweet Of Amish Devgan Shared On 7 Feb 2021

News Report Of Aajtak Published On 8 Feb 2024

Tweet Of Chamoli Police Uttarakhand Shared On 6 July 2024

किसी खबर पर संदेह? हमें भेजें हम उसका Fact Check करेंगे... हमें "9560527702" पर व्हाट्सएप करें या हमें  "Factcheck@rozanaspokesman.com"  पर ई-मेल करें।

SHARE ARTICLE
Advertisement

 

ਪੰਜਾਬੀ ਸੂਟ \'ਚ Tripti Dimri ਨੇ ਬਿਖਰਿਆ ਆਪਣਾ ਜਲਵਾ, ਬੁਲਾਈ ਸਾਰਿਆਂ ਨੂੰ ਸਤਿ ਸ਼੍ਰੀ ਅਕਾਲ

22 Jul 2024 6:01 PM

ਪੰਜਾਬੀ ਸੂਟ \'ਚ Tripti Dimri ਨੇ ਬਿਖਰਿਆ ਆਪਣਾ ਜਲਵਾ, ਬੁਲਾਈ ਸਾਰਿਆਂ ਨੂੰ ਸਤਿ ਸ਼੍ਰੀ ਅਕਾਲ

22 Jul 2024 5:59 PM

Today Punjab News: 15 ਤੋਂ 20 ਮੁੰਡੇ ਵੜ੍ਹ ਗਏ ਖੇਤ ਚ ਕਬਜ਼ਾ ਕਰਨ!, ਵਾਹ ਦਿੱਤੀ ਫ਼ਸਲ, ਭੰਨ ਤੀ ਮੋਟਰ, ਨਾਲੇ ਬਣਾਈ

22 Jul 2024 4:09 PM

ਵਾਹ! 20 ਸਾਲ ਦੇ ਪੰਜਾਬੀ ਨੌਜਵਾਨ ਨੇ ਬਣਾ ਦਿੱਤਾ ਅਸਲੀ ‘ਬੰਬੂਕਾਟ’.. Harley Davidson ਨੂੰ ਪਾਉਂਦਾ ਮਾਤ |

22 Jul 2024 4:06 PM

CGC \'ਚ ਦਾਖ਼ਲਾ ਲੈਣ ਵਾਲੇ ਨਵੇਂ ਵਿਦਿਆਰਥੀਆਂ ਲਈ ਸ਼ੁਰੂ ਕੀਤਾ NEXTGEN Nexus 2024-25 ਪ੍ਰੋਗਰਾਮ

19 Jul 2024 5:50 PM

Canada ਜਾਣ ਵਾਲਿਆਂ ਨੂੰ ਇੱਕ ਹੋਰ ਵੱਡਾ ਝਟਕਾ, ਦਾਖਲਿਆਂ ਨੂੰ ਲੈ ਕੇ ਕੱਢਿਆ ਇੱਕ ਹੋਰ ਨਿਯਮ | Rozana Spokesman

19 Jul 2024 5:40 PM