खबरे |

खबरे |

Chandigarh News: चंडीगढ़ में करीब 800 लोगों के साथ 6 करोड़ की धोखाधड़ी, आरोपी गिरफ्तार, जांच जारी
Published : May 24, 2024, 1:26 pm IST
Updated : May 24, 2024, 1:26 pm IST
SHARE ARTICLE
Fraud with Nearly 800 people worth Rs 6 crore in Chandigarh news in hindi
Fraud with Nearly 800 people worth Rs 6 crore in Chandigarh news in hindi

पीड़ितों ने मेयर कुलदीप कुमार से लेकर प्रशासक बनवारी लाल पुरोहित को पत्र लिखकर विजिलेंस जांच की मांग की है।

Chandigarh News In Hindi: चंडीगढ़ में आए दिन लोग ऑनलाइन ठगी का शिकार होते हैं या फिर विदेश जाने के मामले में इमीग्रेशन कंपनियों द्वारा ठगे जाते है। लेकिन अब शहर में सरकारी विभागों में काम कराने के नाम पर भी सैकड़ों लोग ठगी का शिकार हो रहे हैं जिसके चलते वे अपनी जमा पूंजी भी गंवा बैठे हैं।

चंडीगढ़ पुलिस सबसे आधुनिक उपकरणों से लैस है और चंडीगढ़ में अपराध को नियंत्रित करने का प्रयास करती है। जबकि उनकी नाक के नीचे रोजाना सैकड़ों लोगों को खुलेआम ठगी का शिकार बनाया जा रहा है, लेकिन पुलिस और अधिकारी बेखबर हैं।

जी हां ताजा मामले में अब चंडीगढ़ के मलोआ और उसके आसपास की कॉलोनियों के करीब 800 लोगों के साथ 6 करोड़ की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। इस मामले में पीड़ितों ने सचिवालय पहुंचकर प्रदर्शन किया। वहीं लोगों का आरोप है कि ठेकेदार सिमर खोरवाल निवासी झामपुर मोहाली ने चंडीगढ़ बागवानी विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर उनसे करोड़ों रुपये की ठगी की है। सभी को छह महीने के लिए काम पर रखा गया था, लेकिन केवल एक महीने का भुगतान किया गया। हंगामे के बाद पता चला कि सिमर को नगर निगम, बागवानी या अन्य किसी सरकारी विभाग से कोई टेंडर नहीं मिला था।

PM Modi In Himachal Pradesh: हिमाचल पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, किया जनता को संबोधित

इस खुलासे के बाद प्रशासक के सलाहकार राजीव वर्मा ने सेक्टर-9 स्थित यूटी सचिवालय में आपात बैठक बुलाई। इसमें नगर निगम के इंजीनियरिंग विभाग और प्रशासन के अधिकारी मौजूद थे। बैठक में सलाहकार राजीव वर्मा ने अधिकारियों से कहा कि शहर में नौकरी के नाम पर इतनी बड़ी संख्या में लोगों से ठगी की गयी है। उन्होंने कहा कि पूरे शहर में 800 लोग कर्मचारी बनकर काम करते रहे, लेकिन प्रशासन और नगर निगम को मैदानी अमले की परवाह क्यों नहीं हुई। नगर निगम की ओर से बताया गया कि जहां ये कर्मचारी काम कर रहे थे, वह नगर निगम का क्षेत्र नहीं है। बैठक के दौरान फील्ड में काम करने वाले कर्मचारियों की जियो फेंसिंग समेत अन्य निर्देश जारी किये गये।

इस संबंध में पीड़ितों ने मेयर कुलदीप कुमार से लेकर प्रशासक बनवारी लाल पुरोहित को पत्र लिखकर विजिलेंस जांच की मांग की है। इस मामले में चंडीगढ़ पुलिस ने ठेकेदार और उसके साथी एजेंट के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया, जहां से दोनों को दो दिन के रिमांड पर लिया गया है। शुरुआती जांच में यह भी पता चला है कि आरोपी ठेकेदार ने अलग-अलग जगहों पर करोड़ों रुपये के मकान और अन्य संपत्तियां खरीदी हैं। इस मामले में कई सरकारी अधिकारियों की मिलीभगत भी सामने आई है।

खैर इस मामले में लगातार जांच कार्रवाई जारी है, लेकिन ऐसे में देखना होगा की इस मामले में कब तक इन लोगों का पैसा इनको वापस मिलता है। वहीं आरोपियों पर क्या कुछ कार्रवाई की जाती है।

(For more news apart from Fraud with Nearly 800 people worth Rs 6 crore in Chandigarh News in hindi, stay tuned to Rozana Spokesman Hindi)  

SHARE ARTICLE
Advertisement

 

हम डांसर है कॉल गर्ल नहीं हमारी भी इज्जत है

02 Apr 2024 5:04 PM

#Vicky की मां का #Attitude लोगों को नहीं आया पसंद! बोले- हमारी अंकिता तुम्हारे बेटे से कम नहीं

17 Jan 2024 11:07 AM

चंद्रयान-3 के बाद ISRO ने का एक और कमाल, अब इस मिशन में हासिल की सफलता

11 Aug 2023 7:01 PM

अरे नीचे बैठो...प्रधानमंत्री पर उंगली उठाई तो औकात दिखा दूंगा', उद्धव गुट पर भड़के केंद्रीय मंत्री

11 Aug 2023 6:59 PM

शिमला में नहीं थम रहा बारिश का कहर, देखिए कैसे आंखों के सामने ढह गया आशियाना

11 Aug 2023 6:57 PM